Transcript Unavailable.

अगर अभी तक आप कोरोना टीका लेने से घबरा रहे हैं तो देर मत कीजिए.... जल्दी से किसी डाॅक्टर, आशा कार्यकर्ता या फिर स्वास्थ्य कर्मचारी की सलाह लें... ना कि सोशल मीडिया या फिर इधर-उधर से सुनी सुनाई बातों पर विश्वास करें. साथ ही हमें बताएं कि आप कैसे कोरोना टीके से जुडे मिथकों को दूर करने का प्रयास कर रहे हैं? क्या इस काम में आपको प्रशासन की ओर से कोई मदद मिल रही है? और अगर आप कोरोना का टीका लगवा चुके हैं तो अपना अनुभव हमारे साथ साझा करें. अपनी बात रिकाॅर्ड करने के लिए फोन में अभी दबाएं नम्बर 3.

दोस्तों,कोविड का टीका हर तरह के परीक्षण के बाद तैयार किया है और फिर आम नागरिकों तक पहुंचा है. असल में कोरोना का टीका शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाता है. इससे शरीर को किसी प्रकार का नुकसान नहीं होता. टीके के प्रभाव से कुछ लोगों को हल्का बुखार या फिर टीका लगने वाले स्थान पर दर्द हो सकता है लेकिन यह क्षणिक है. यानि एक दो दिन में खुद ठीक हो जाता है. इससे ना तो माहवरी बंद होती है ना ही उस दौरान दर्द होने जैसी कोई समस्या आती है. और ज़्यादा जानने के लिए इस ऑडियो को क्लिक करें .

दोस्तों, मालुम है , स्वास्थ्य विशेषज्ञ समुदाय का कहना है कि शराब पीने या फिर धूम्रपान करने से शरीर के उस तंत्र में बाधा होगी जिसमें कोविड-19 वैक्सीन के बाद एंटीबॉडी का उत्पादन होने की उम्मीद है।डॉक्टर्स का कहना है कि अगर कोई व्यक्ति कोविड-19 वैक्सीन लेता है और उसके बाद धूम्रपान या शराब पी लेता है, तो इससे एंटीबॉडी के उत्पन होने में बाधा आएगी और जिस स्तर की एंटीबॉडी की ज़रूरत है उतनी शरीर को नहीं मिल पाएंगी . और ज्यादा जानने के लिए इस ऑडियो को क्लिक करें

विश्व स्तनपान दिवस के अवसर पर रैली निकाल कर लोगों को माँ का दूध बच्चों के लिए क्यों है जरुरी इसकी जानकारी दी गई। विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।

सिकन्दरा प्रखंड में गुरुबार को शिवनाथी पोखर स्थित पंचायत कार्यालयों में विशेष आम सभा के तहत वार्ड नं - 12 के रिक्त पड़े पदों पर पूरी पारदर्शिता के साथ सेविका का चयन किया गया ! इस आम सभा मे प्रखंड विकास पदाधिकारी अमित कुमार ने उपस्थित सभी अभ्यर्थी के जांच उपरांत मेधा सूची के अनुसार सिकन्दरा निवासी अरबिंद कुमार पांडेय की पत्नी पूजा कुमारी का सेविका के रूप में चयन किया गया ! मौके थाना प्रभारी जोतेंद्र देव दीपक ,मो सोनू ,सहित दर्जनों लोग उपस्थित थे। विस्तृत जानकारी के लिए ऑडियो पर क्लिक करें।

बेखौफ अपराधियों ने नैयाडीह निवासी की पीट-पीटकर कर दी हत्या// सोनो संवादाता योगेन्द्र प्रसाद उर्फ कुंदन थानाक्षेत्र के नैयाडीह में अपराध का ग्राफ दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है, शाम होते ही किसी अनहोनी घटना से लोगों में डर का माहौल व्याप्त हो जाता| इसी कड़ी में रविवार की रात्रि डॉक्टरी की प्रैक्टिस कर लौट रहे व्यक्ति को अज्ञात अपराधियों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी| यह घटना कलवराडीह( कालवाडीह) के पास हुआ है नैयाडीह निवासी प्रभु यादव के 45 वर्षीय पुत्र दिलीप यादव के साथ घटी, जो आए दिन की तरह मरीजों को देख बिंझी गांव से नैयाडीह वापस लौट रहे थे, लौटने के क्रम में पहले से घात लगा बैठे अपराधियों ने दिलीप यादव की हत्या कर शव को सड़क पर छोड़ फरार हो गए | वही घर पर बेटे का इंतजार कर रहे पिता काफी रात्रि तक जब बेटे को घर वापस लौटते नहीं देखा, तो खोजबीन प्रारंभ की |खोजबीन के क्रम में गांव से कुछ दूर पर उन्होंने किसी अज्ञात व्यक्ति को सड़क पर पड़ा पाया, नजदीक जाकर स्थिति की जायजा लिया तो अपने सगे बेटे को मृत अवस्था में पाया| बेटे का सब देख पिता अपने होशो -हवास खो भूमि पर गिर पड़े| आसपास गुजर रहे राहगीरों ने परिजनों को घटना की सूचना दी |जिससे मृतक के दो अन्य भाई सहित रिश्तेदारों के पहुंचने पर अफरा -तफरी का माहौल छा गया| घर की महिलाओं की आंखों से आंसुओं का सैलाब रुकने का नाम नहीं ले रहा, पल भर में घटी अनहोनी से परिजन सहित ग्रामीण स्तब्ध थे, वहीं घटना की सूचना चरकापत्थर थाना अध्यक्ष जितेंद्र कुमार रात भर सड़क पर ही पडा रहा है सुबह सोनो थाना को देने के पश्चात अब्दुल हलीम ने झाझा एसडीपीओ रवि रंजन प्रसाद को वारदात से अवगत कराया, जिससे प्रातः काल एसडीपीओ सहित थाना अध्यक्ष वारदात स्थल पहुंच स्थिति का जायजा लिया| पीड़ित परिवार सहित परिजनों को ढांढस बांधते हुए अज्ञात अपराधियों के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई का भरोसा दिया| खबर लिखे जाने तक शव को पोस्टमार्टम के लिए जमुई सदर रेफर कर दिया गया|

बिहार राज्य के जमुई जिला के सिकंदरा प्रखंड से मोबाइल वाणी संवाददाता अमित कुमार सविता ने मदन ठाकुर से साक्षात्कार लिया ,जिसमें उन्होंने जानकारी दी कि सरकार द्वारा बहुत सी योजनाएं जनता और महिलाओं के सुख सुविधा के लिए चलाई जा रही है। लेकिन वो धरातल में सही रूप से नहीं उतर पाता है।उदहारण के लिए जब माताएँ गर्भवती होती है तो उन्हें साधारण प्रसव के जगह कुछ पैसे के लालच में डाक्टरों द्वारा ऑपरेशन कर प्रसव कराया जाता है। यह महिलाओं के स्वास्थ्य के बिलकुल विरुद्ध है। महिलाओं को सरकार के द्वारा जो सुविधा दी जाती है उसमे भी लूट खसोट किया जाता है। इस खबर को सुनने के लिए ऑडियो पर क्लिक करें।

आमजन की समस्याओं के प्रति जमुई स्वास्थ्य विभाग के विभागीय अधिकारी इस कदर उदासीन है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि शिकायत के बाद भी ब्लड बैंक जमुई का रिकॉर्ड अब तक ऑनलाइन उपलब्ध नहीं है। सामाजिक कार्यकर्ता सुमन सौरभ ने बताया कि इसकी शिकायत विभाग से 30 अप्रैल को ही की गई थी। वैसे इस गंभीर परेशानी हसे सम्बंधित खबर 7 मई को विभिन्न खबरों ने प्रमुखता से भी प्रकाशित किया उसके बाद भी विभाग अब तक लापरवाह और उदासीन बना हुआ है। ई-रक्तकोष की स्थापना पर जहाँ आम लोग खुश थे यह सोचकर कि अब हमें ब्लड उपलब्धता को लेकर कोई गुमराह नहीं कर सकता। हम ब्लड उपलब्धता का खुद ऑनलाइन रिकॉर्ड देख लेंगे और जरुरत के मुताबिक हम इसका लाभ लेंगे। लेकिन इस समस्या को हल करना तो दूर अभी तक शिकायत के 25 दिन पश्चात विभागीय अधिकारी ने इसे गंभीरता से भी नहीं लिया। अब तो समस्या यह हो गई है कि स्वैच्छिक रक्तदान करने वाले जमुई के युवा रक्तदान तो कर रहे है पर उन्हें स्वैच्छिक रक्तदाता स्मार्ट डोनर कार्ड नहीं मिल पा रहा जिस कारण यदि भविष्य में खुद के लिए भी उन्हें ब्लड की जरुरत होगी तो उन्हें ब्लड नहीं मिल पायेगा।

सोनो सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनो के सभागार में जिला स्वास्थ समिति जमुई के तत्वाधान में जिले के सभी आशा फेसिलिटेटर का द्वितीय बैच का जिला स्तरीय पर प्रशिक्षण सम्पन,हुआ l इस प्रशिक्षण मै नियमित टीकाकरण के बढ़ाने एवं कुपोषण को कम करने के विषय पर उन्मुखीकरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।प्रशिक्षण के दौरान डीपीएम सुधांशु शेखर, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी सोनो शशि भूषण कुमार, स्वास्थ्य प्रबंधक जूही अलका, बीसीएम सुनील कुमार, सुनील प्रसाद, अनिल कुमार एवं पी सी आई के प्रतिनिधि बीसी शशि भूषण कुमार, गोरभ एवं मकेश्वर उपस्थित थे कार्यक्रम को संबोधित करते हुए dpm ने बताया कि आज नियमित टीकाकरण एवं कुपोषण विषय पर उन्मुखीकरण का आज दूसरा बेच है जिसमें 3 ब्लॉक चकाई सोनो और झाझा के आशा फेसिलिटेटर उपस्थित है। विस्तृत जानकारी के लिए ऑडियो पर क्लिक करें।