सोनो( जमुई)/ चरकापत्थर थाना अंतर्गत जागीजोर पुल के पास तेज रफ्तार बाइक के असंतुलित होने के एक सवार की मौत हो गई वहीं दूसरा गंभीर रूप से निजी क्लीनिक में इलाजरत है। घटना बीते दिन की है जब वैशाली जिला के राघोपुर निवासी शंभू सिंह का 14 वर्षीय पुत्र अपने बड़े मामा के श्राद्ध कर्म में जमुई जिला आया हुआ था। मृतक अपने छोटे मामा के साथ बेलाटांड़ से लकरा गांव की ओर जा रहा था तभी जागीजोर पुलिया के पास तेज रफ्तार बाइक असंतुलित हो पुल से जा टकराई जिससे दोनों सवार गंभीर रूप से घायल हो गए। स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया जिसमें इलाज के दौरान 14 वर्षीय श्रवण कुमार को डॉक्टरों की टीम नहीं बचा पाई वहीं छोटे मामा चंदन सिंह का इलाज डॉक्टरों की देखरेख में जारी है। मृतक अपनी बहन के ससुराल बेलाटांड से बड़े मामा के श्राद्ध कर्म के लिए निकला था लेकिन कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने से पूर्व ही दुर्घटना का शिकार हो गया। घटना की सूचना चरका पत्थर थाना प्रभारी अनिरुद्ध कुमार को मिलने के पश्चात घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि दुर्घटना में एक सवार की मौत हो गई वहीं दूसरा गंभीर रूप से घायल है। मामले में अग्रेतर कार्रवाई करते हुए थाना प्रभारी ने मृतक श्रवण कुमार का शव कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए जमुई सदर भेज दिया, वहीं शोकाकुल परिजनों को सांत्वना देते हुए सरकार की ओर से मिलने वाले मुआवजा राशि दिलाने का भरोसा दिया।

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

साथियों, हमें बताएं कि क्या आपके क्षेत्र के सरकारी जिला अस्पतालों, उपस्वास्थ्य केन्द्रों, स्वास्थ्य केन्द्रों, आंगनबाडी में पानी की कमी है? क्या वहां प्रशासन ने पानी की सप्लाई व्यवस्था दुरूस्त नहीं की है? अगर अस्पताल में पानी नहीं मिल रहा है तो मरीज कैसे इलाज करवा रहे हैं? क्या पानी की कमी के कारण बीमार होते हुए भी लोग इलाज करवाने अस्पताल नहीं जा रहे? या फिर आपको अपने साथ घर से पानी लेकर अस्पताल जाना पड़ रहा है? अपनी बात अभी रिकॉर्ड करें, फोन में नम्बर 3 दबाकर.

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

बिहार राज्य के जमुई जिला से अमित कुमार सविता ने मोबाइल वाणी के माध्यम से बताया कि भीषण गर्मी और लू से लगातार होने वाले मृत्यु को देखते हुए सरकार ने सभी जिलों को गर्मी से बचाव, लोगों के इलाज के साथ पेयजल की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। राज्य के मुख्य सचिव की ओर से सभी विभागों को आवश्यक कदम उठाने का कहा गया है। मुख्य सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी स्तर के प्राथमिक अस्पतालों से लेकर मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में गर्मी से बीमार होने वाले लोगों के इलाज की व्यवस्था का निर्देश दिया गया है।अस्पतालों से कहा गया है कि वे लू की चपेट में आने वाले मरीजों के लिए अलग से वार्ड, इलाज की व्यवस्था करें। अस्पतालों में पर्याप्त ओआरएस रखे। जूल वार्ड में एयरकंडीशन की व्यस्था रखें।विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।