दिल्ली के मानेसर से मनीष कुमार ने श्रमिक वाणी के माध्यम से राजकुमार यादव श्रमिक वाणी के माध्यम से बताना चाहते है की, आवारा पशु जो यहा वहा घूमते रहते है वो किसान के फसलों को खा जाते है। जिससे किसानो को काफी परेशानी होती है। सरकार को ज्यादा से ज्यादा गोशाला का निर्माण करवाना चाहिए। ताकि ये पशु किसान के फसल को नुक्सान ना पंहुचा सके

दिल्ली एनसीआर के मानेसर से मनीष कुमार पांडेय ,श्रमिक वाणी के माध्यम से कहते है कि पहले पशुओं द्वारा खेती में मदद मिलती थी लेकिन अब रासायनिक खाद् का उपयोग किया जा रहा है जिससे पैदावार कम हो रहा है

उत्तर प्रदेश राज्य के जिला हमीरपुर से तेज प्रताप मोबाइल वाणी के माध्यम से बता रहे है कि किसान पुराने तरीको से खेती करते है और फसल नहीं होती है तो किसान कहते है कि उनकी मिट्टी उपजाऊ नहीं है। अगर ग्रामवासी कोशिश करे और अपने ब्लॉक में जाकर बात करे और अपनी जमीन की मिटटी की जांच करवाए। और वैज्ञानिको द्वारा बताई गयी विधि और खाद का प्रयोग करे। इसी तरह पशुपालन के लिए भी जानकारी ले कि पशुओ का खान पान कैसा रखा जाए।

Transcript Unavailable.

Transcript Unavailable.

Transcript Unavailable.

Transcript Unavailable.

Transcript Unavailable.

उत्तरप्रदेश राज्य के बाँदा जिला से खेम सिंह श्रमिक वाणी के माध्यम से बताना चाहते है की, गाय के द्वारा खेती को नस्ट किया जा रहा है। लोगो द्वारा गोशाला में गया को रखना की बात कही जा रही है, लेकिन अभी तक कुछ किया नहीं गया है

उत्तरप्रदेश राज्य के बाँदा ज़िला से खेम सिंह ,श्रमिक वाणी के माध्यम से बताते है कि बारिश नहीं होने से किसान परेशान है साथ ही छुट्टल पशुओं ने भी किसानों की चिंता बढ़ा कर रखी है