नवादा में सीबीआई और स्थानीय पुलिस की टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया. जांच टीम को फर्जी बताकर हमला किया सीबीआई टीम के वाहन चालक के साथ बुरी तरह मारपीट की गयी। घटना जिले के रजौली थाना क्षेत्र के मुरहेना-कसियाडीह की है। इस बाबत रजौली थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

बिहार राज्य के जमुई जिला से अमित कुमार सविता ने मोबाइल वाणी के माध्यम से बताया कि शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव के.के पाठक हटाए गए। शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव के पद से सरकार ने के.के पाठक को हटाकर उन्हें राजस्व भूमि सुधार विभाग का प्रमुख सचिव बनाया गया है. नवादा, पुलिस कप्तान कार्तिकेय शर्मा और भोजपुर पुलिस कप्तान का भी तबादला हुआ है। विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

सोनो( जमुई)/ शिक्षा के मंदिर में जहां नौनिहालों के भविष्य की इबारत लिखी जाती, जब इसी मंदिर में भविष्य के इबारतकर्ता द्वारा अमर्यादित और असामाजिक कार्यों को अंजाम देने का कार्य किया जाता तो वाकई समाज के सामने एक विकट और गंभीर समस्या आन पड़ती। शिक्षक समाज का दर्पण है जो समाज में रहने वाले बच्चों के भविष्य का निर्माण अपनी प्रतिभाओं के द्वारा सदियों से करता आ रहा, लेकिन वर्तमान शिक्षा व्यवस्था में जिस प्रकार शिक्षकों के मानसिक और शारीरिक दशा और दिशा बदल रही वह अपने आप में चिंता का विषय है। बटिया थाना अंतर्गत उत्क्रमित मध्य विद्यालय बुझायत में पढ़ने वाले दो शिक्षकों ने शिक्षा के मंदिर में ऐसे कार्यों को अंजाम दिया जिससे न सिर्फ शिक्षक समाज बल्कि पढ़ने वाले बच्चों के भी मन में शिक्षकों के प्रति अनादर की भावना घर कर गई। विगत दिनों विद्यालय के प्रांगण में प्रभारी प्रधानाध्यापक दशरथ शर्मा और शिक्षा सेवक प्रकाश कुमार बौद्ध के बीच हुई हाथापाई और मारपीट की घटना ने पूरे शिक्षक समाज को शर्मसार कर दिया। उक्त घटनाक्रम पर दोनों पक्षों द्वारा दिए गए बयान के आधार पर एक और जहां दशरथ शर्मा ने बताया कि शिक्षा सेवक प्रकाश कुमार बौद्ध द्वारा अपने पद का दुरुपयोग करते हुए हर समय अनावश्यक हस्तक्षेप का प्रयास किया जाता रहा है जिससे शिक्षण कार्य में बाधाएं उत्पन्न होती रहती है, किसी कार्य का विरोध करने के पश्चात शिक्षा सेवक ने विद्वेष की भावना से अपने परिजनों के साथ मिलकर विद्यालय प्रांगण में ही प्रभारी प्रधानाध्यापक के साथ मारपीट की घटना को अंजाम दिया जिसके गवाह विद्यालय में कार्यरत रसोईया और पढ़ने वाले बच्चे भी हैं। दरअसल शर्मा ने अपने साथ हुई आपबीती में यह भी बताया कि मारपीट की घटना में उनके आगे के चार दांत भी टूट गए साथ ही शरीर के कई जगहों पर अंदरूनी छोटें भी आई, दूसरी और अपना पक्ष रखते हुए प्रकाश कुमार बौद्ध ने बताया कि प्रभारी प्रधानाध्यापक और विद्यालय प्रबंधन कमेटी के अध्यक्ष के पति मुकेश सिंह द्वारा उनके साथ गाली-गलौज करते हुए जाति सूचक शब्द का प्रयोग किया गया, जिसका विरोध करने पर दोनों ने मारपीट की घटना को अंजाम दिया। उपरोक्त घटनाक्रम में बटिया थाना में दिए आवेदन के आधार पर मामले की सत्यता के लिए टीम का गठन कर दिया गया जिसमें गहनता से छानबीन करने के उपरांत ही किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकता है। प्रकाश बौद्ध ने बताया कि विद्यालय में किया जाता है दुर्व्यवहार विरोध करने पर दीया घटना का अंजाम

बिहार राज्य के जिला जमुई से योगेंद्र प्रसाद , मोबाइल वाणी के माध्यम से यह बताना चाहते है प्महेश्वरी पेन कान्ह गांव निवासी दो बच्चों के साथ लापता हुई महिला का नहीं मिल रहा कोई सुराग सोनो (जमुई)/ चरकापत्थर थाना अंतर्गत एक महिला के लापता होने का मामला प्रकाश में आया। घटना थाना अंतर्गत महेश्वरी पंचायत के पेनकान्ह का है जहां बीते दिनों एक महिला अपने दो बच्चों के साथ लापता हो गई। थाना में परिजनों द्वारा दिए गए आवेदन के अनुसार महिला के ससुर ने बताया कि दिनांक 22 मई को प्रातः 7:00 बजे महिला अपने दो छोटे-छोटे बच्चों के साथ मायके जाने का कह कर घर से निकल गई। काफी समय बीत जाने के पश्चात जब परिजनों महिला की खोज खबर ली गई तब मायके वालों ने भी महिला के वहां होने से इनकार कर दिया। किसी अनहोनी की आशंका से घबराए परिजनों ने अपने सभी रिश्तेदारों के पास गहनता से खोजबीन की लेकिन महिला का सुराग कहीं नहीं मिल पाया। लापता महिला के ससुर गणपत यादव ने बताया कि कुछ वर्ष पूर्व उनके बेटे की मृत्यु हो जाने के पश्चात महिला अपने दो बच्चों के साथ अपने ससुराल में ही रह जीवन यापन कर रही थी। वहीं एक बच्चा गिरिडीह जिला अंतर्गत बिरनी थाना के खुटाटांड अपने नाना-नानी के घर पर रह रहा था। महिला के परिजनों ने यह भी बताया कि महिला अपने तीसरे बच्चे को मायके से लाने का कह कर तो निकल गई लेकिन ना तो वह मायके ही पहुंच पाई और ना किसी अन्य जगह। लापता महिला की कोई जानकारी नहीं मिल पाने के कारण किसी भी प्रकार की अनहोनी घटना महिला सहित बच्चों के साथ ना घटित हो इस आशंका से परिजन के अंदर डर व्याप्त हो गया है। थाना प्रभारी से महिला सहित लापता बच्चों के जान-माल की सुरक्षा की गुहार लगाते हुए जल्द से जल्द बरामदगी की मांग की। प्राप्त आवेदन के अनुसार थाना प्रभारी ने मामले में प्राथमिक की दर्ज कर छानबीन प्रारंभ कर दी।

बिहार राज्य के जमुई जिला से मोबाइल वाणी संवाददाता अमित कुमार सविता जानकारी दे रहे हैं की लहिला मोड़ से लेकर पोहे मोड़ तक चोरी, मारपीट और छिनतई का मामला रुकने का नाम नहीं ले रहा है, सिकंदरा पुलिस की नाकामी साफ जाहिर हो रहा है। अचंभो निवासी भोली सिंह से बाइक छिनतई के बाद, 2 महीना पहले ठीक इसी जगह से पटवन कर रहे किसानों का तीन मोटर उठा लिया गया। विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...

सुनिए डॉक्टर स्नेहा माथुर की संघर्षमय लेकिन प्रेरक कहानी और जानिए कैसे उन्होंने भारतीय समाज और परिवारों में फैली बुराइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई! सुनिए उनका संघर्ष और जीत, धारावाहिक 'मैं कुछ भी कर सकती हूं' में...