Transcript Unavailable.

Transcript Unavailable.

झारखण्ड राज्य के देवघर जिला से शशि भूषण राय मोबाइल वाणी के माध्यम से मनरेगा के बारे में बता रहे है। उनका कहना है की मनरेगा एक बहुत अच्छी योजना है, इसमें कोई संदेह नहीं है, लेकिन कभी-कभी मनरेगा में यह भी शिकायत होती है

आज की रेसिपी में जाने चुकंदर का अंचार बनाने की विधि

आज की रेसिपी में जाने जिरहुल फुल की सब्जी बनाने की विधि

आटे का मीठा पिट्ठा बनाने के लिए हमें जो सामग्रीः चाहिए वे है 1कप आटा, 1लीटर फुल क्रीम दूध 1/2 कप चीनी ,1/4 टी स्पून इलाइची पाउडर ,2 टेबल स्पून बादाम छूटे टुकड़े में कटे हुए। आइए बनाते है हमारा पिट्ठा। सबसे पहले हमे आटे को गूंध ले जैसे हम रोटियाँ बनाते है फिर उसकी छोटी छोटी लोइयाँ बना ले। अब एक मोटे तले का बर्तन लें और उसमे दूध डाले और चीनी मिलाए चीनी की जगह आप गुड़ भी ले सकते है। जब दूध उबलने लगे तब आटे की छोटी लोइयों को डाले ईलायची पाउडर भी डाले और मेडिअम आँच पर पकाए जब तक दूध गाढ़ा न हो जाए। आखिरी में बादाम के कटे हुए टुकड़े डाले और इसे ठंढा कर ले। जब ये ठंढा हो जाए तब परोसें।

नमस्कार दोस्तों , मेरा नाम राहुल है और मैं झारखंड के रांची के नामकुम प्रखंड का निवासी हूँ । हमारे क्षेत्र का पिन कोड है 834010। तो श्रोताओं , आज मैं आपके लिए हेल्थी पालक सूप की एक रेसिपी लेकर आया हूँ । इसमें लगने वाली सामग्री है कटा हुआ पालक का एक कटोरा , एक छोटा टमाटर , दो से तीन बड़े चम्मच मीठा मकई , आधा चम्मच काली मिर्च , चार से पांच लहसुन , एक तेजपत्ता , दो या तीन बड़े चम्मच तेल या मक्खन शामिल हैं । 1 कप दूध, स्वादनुसार नमक, आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर, आवश्यकता के अनुसार थोड़ी सी क्रीम सजाने के लिए व आधा छोटी चम्मच चीनी। पहले पालक को अच्छी तरह से धो लें और इसे छोटे टुकड़ों में काट लें । अब एक पैन में तेल डालकर गरम होने दे । फिर इसमें तेजपत्ता ,काली मिर्च और लहसुन डालें और भूनें अब पालक डालें और इसे दो से तीन मिनट तक भूनें, अब टुकड़ों में कटे हुए टमाटर डालें अब दो से तीन चम्मच पानी डालें । इसे तीन से चार मिनट तक पकने दें , अब नमक और चीनी डालें , इसे ढक दें और थोड़ी देर के लिए पकने दें ।पालक जब अच्छे से पाक कर ड्राई हो जाये तब इसको थोड़ी देर के लिए ठंडा होने दे, जब पालक अच्छे से ठंडा हो जाए तब इसमें से तेज़ पत्ता को निकाल कर अलग रख दे। फिर इसको मिक्सर में डाल कर पीस लेंगे।अगर जरूरत पड़े तो इसमें थोड़ा पानी डाल सकते है, अब एक पैन में 1 चम्मच बटर डाल कर गरम होने दे फिर इसमें पालक की प्युरी को इसमें डाल दे।अब इसको 2-3 मिनट तक धीमी आंच पकने दे।अब इसमें दूध को डाल कर अच्छे से मिक्स कर लेंगे। फिर कॉर्न को भी डाल कर इसको 1-2 मिनट तक और पकने देंगे।जब सूप अच्छे से पक जाए तब इसको सूप बाउल में निकाल कर इसके ऊपर काली मिर्च पाउडर छिड़क दें। अब इसके उपर से क्रीम डाल कर इसको आप गरमा गर्म सर्व करेंगे।आप भी इसको जरूर बना कर देखे।

नमस्कार दोस्तों , मैं राहुल रांची के नामकुम प्रखंड से हूँ , हमारे क्षेत्र का पिन कोड है 834010, आज मैं आपको खीरे की चटनी बनाने की विधि भी बताने जा रहा हूँ , इसमें लगने वाली सामग्री है 1 खीरा 2 छोटे चम्मच तेल,1 बड़ा चम्मच मूंगफली ,1 बड़ा चम्मच चना दाल ,1 छोटा चम्मच जीरा ,4 हरी मिर्च ,4 कली लहसुन ,1 छोटा चम्मच नमक ,चुटकी भर हल्दी ,3-4 टुकड़े इमली,1/4 कप हरा धनिया ,तड़का के लिए सामग्री 1 बड़ा चम्मच तेल ,1/2 छोटा चम्मच चना दाल,1/2 छोटा चम्मच उडद दाल,1/2 छोटा चम्मच राई ,1 सूखी लाल मिर्च,4-5 कड़ी पत्ता ,चुटकी भर हींग तो आइए आगे बढ़ते हैं,सबसे पहले 2 छोटे चम्मच तेल गरम करने रखें. उसमें चना दाल और मूंगफली डालके धीमी आंच पर भुने. हल्का भून जाए तब हरी मिर्च लहसुन और जीरा डालकर भुने. गैस बंद करके इमली डालें, अब इसे मिक्सी के जार में डालें. ककड़ी नमक हल्दी और हरा धनिया डालकर पीस लें,एक बाउल में निकाल कर उपर तड़का डालें और रोटी और चावल के साथ सर्व करें

मैं रांची के नामकुम ब्लॉक का राहुल हूँ , हमारा पिन कोड है 834010। मैं आज आपके पास एक रेसेपी लेकर आया हूँ हरे चने की चटनी । तो आज मैं आपको हरे चने की चटनी बनाने के बारे में बताना चाहता हूं , तो इसमें उपयोग की जाने वाली सामग्री है ,एक कप ताजा हरा चना , दो बड़े चम्मच दही , दो हरी मिर्च , लहसुन की चार से पांच कली , धनिया के पत्ते आवश्यकता अनुसार , नमक स्वादानुसार , एक चम्मच सरसों का तेल , डेढ़ टीस्पून तिल , एक चुटकी लाल मिर्च पाउडर। इसे बनाने के लिए , सबसे पहले चने को धोकर साफ कर ले और इसे एक कप पानी में पांच मिनट के लिए उबालें , जब चना ठंडा हो जाए तो मिक्सर जार में लहसुन, हरी मिर्च धनियापत्ती और नमक मिलाएं और पीस लें । अब इसमे दही मिला कर फिर से पीस ले और स्मूद सा बना ले, चटनी को बाउल मे निकाल ले । अब तडका पैन में सारसों का तेल गर्म करें और फिर इसमे तिल चटाकये और चना चटनी में तड़का लगाए और फिर ऊपर से लाल मिर्च पाउडर स्प्रिंकल करे ।चटपट्टी हरी चटनी भोजन के साथ एक साइड डिश के रूप में परोसी जाने के लिए तैयार है ।

तो दोस्तों , रांची की साक्षी कुमारी झारखंड आपके लिए झारखंड की पारंपरिक और प्रसिद्ध रोटी की विधि लेकर आई हैं जिसे हम ढक्कन डब्बा कहते हैं और कई जगहों पर हम इसे ढक्कन पिठ्ठा भी कहा जाता है जो बिना किसी तेल और मसालों के बनाया जाता है जिसे पचाना भी आसान होता है । इसे बनाने के लिए हमें चार कप अरवा चावल , एक कप उरद की दाल और एक मिट्टी का तवा चाहिए जो बाज़ार में आसानी से मिल जाता है। चावल और दाल को मिलाकर इसे छह से सात घंटे तक फूलने के लिए छोड़ दे । जब यह फूल जाए तो इसे एक मिक्सर में डालें और इसका महीन पेस्ट बना लें । पीसते वक्त गुनगुने पानी का उपयोग करे हैं और पेस्ट न तो बहुत गाढ़ा हो और न ही बहुत पतला हो , गैस में तवा को गर्म करने के लिए रखे और फिर एक कल्छी चावला के घोल को डाले । ढक्कन को ढक दें और ढक्कन के चारों ओर थोड़ा पानी छिड़कें ताकि रोटी आराम से बाहर निकले , पलट कर दूसरी तरफ न पकाये, इसे निकाल कर थाली पर रख दें । सभी रोटी को इसी तरह से बनाये और इससे चटनी के साथ खाये