उत्तरप्रदेश राज्य के गोंडा जिला से माधुरी श्रीवास्तव मोबाइल वाणी के माध्यम निधि जी से बातचीत की। बातचीत में निधि ने बताया कि समाज में महिलायें पिछड़ी हुई है और इसका कारण केवल अशिक्षा है।अशिक्षित महिलाएं अपने अधिकारों को लेकर जागरूक नहीं हो पाती है यही कारण के की घर के अधिकांश निर्णय पुरुष द्वारा ही लिए जाते हैं

उत्तरप्रदेश राज्य के गोरखपुर जिला से राजकिशोर सिंह ने मोबाइल वाणी के माध्यम से पूनम सिंह से बात किया उन्होंने बताया की महिलाओं को शिक्षित होना बहुत जरुरी है। जब एक पुरुष शिक्षित होता है, तो वह केवल खुद को शिक्षित करता है, लेकिन जब महिलाएं शिक्षित होती हैं, तो उनके बच्चे शिक्षित होते हैं, उनके परिवार भी शिक्षित होते हैं। जब उनके बच्चे शिक्षित होंगे, तो आने वाले समय में वे देश को भी शिक्षित करेंगी, इसलिए महिलाओं का शिक्षित होना बहुत जरूरी है।

उत्तरप्रदेश राज्य के गोंडा जिला से माधुरी श्रीवास्तव मोबाइल वाणी के माध्यम चंदा जी से बातचीत की। बातचीत में चंदा ने बताया कि महिलाओं की निरक्षरता यानी शिक्षा की कमी को बचपन से ही स्कूल आदि में भेजा जाना चाहिए और उन्हें जागरूक किया जाना चाहिए कि उन्हें भी अपने अधिकारों के लिए लड़ना चाहिए और अपनी बात रखनी चाहिए और उन्हें एक मंच पर लाना चाहिए। अगर महिलाएं शिक्षित हैं, तो वे अपने बच्चों को भी शिक्षित कर सकती हैं और इससे हमारा देश और आगे बढ़ेगा क्योंकि देश को आगे ले जाने के लिए युवा ही हमारी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, इसलिए इसके लिए मां का शिक्षित होना बहुत महत्वपूर्ण है।

उत्तरप्रदेश राज्य के गोरखपुर जिला से राजकिशोर सिंह ने मोबाइल वाणी के माध्यम से बताया कि महिलाओं के लिए शिक्षित होना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि जब एक महिला शिक्षित होती है, तो एक परिवार में सुधार होगा। शिक्षित महिला ,कन्या भ्रूण हत्या जैसी कई सामाजिक बुराइयाँ को दूर करने की कुंजी साबित हो सकती है। यह देश के आर्थिक विकास में भी मदद करता है क्योंकि अधिक से अधिक शिक्षित महिलाएं देश की श्रम शक्ति में भाग ले सकेंगी। हाल ही में, स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा एक सर्वेक्षण जारी किया गया है जो बच्चों की पोषण स्थिति और उनकी माताओं की शिक्षा के बीच सीधा संबंध दिखाता है। उनके बच्चे जितने अधिक शिक्षित होते हैं, उन्हें उतना ही अधिक पोषण सहायता मिलती है। इसके अलावा, कई विकास अर्थशास्त्रियों ने लंबे समय से अध्ययन किया है

Transcript Unavailable.

नाम सतपाल सिंह पिता का नाम धर्मपाल सिंह ब्लाक हुजूरपुर थाना हुजूरपुर तहसील पयागपुर जिला बहराइच मौज शिवन्हा 9792 39 1670

Transcript Unavailable.

उत्तर प्रदेश राज्य के वाराणसी जिला से मोबाइल वाणी संवाददाता शैलेंद्र सिंह ने जानकारी दी कि महिलाओ के सशक्त होने से भारत मे बदलाव देखने को मिल रहे है। इसके साथ ही महिलायें पुरानी कुरीतियों को खत्म कर एक नई विचारधारा के साथ आगे बढ़ रही है। ट्रेन हो या विमान या उससे संबंधित अन्य सीमा सुरक्षा, अर्धसैनिक बल हर जगह महिला मौजूद हैं। हाशिए पर रहने वाली महिलाओं को निश्चित रूप से बदलाव आया है। इसके साथ ही घरेलू हिंसा में कमी आई है। महिला खुद के लिए अब आवाज उठा रही है। आर्थिक रूप से सशक्त हो कर परिवार की जिम्मेदारी उठा रही है। लेकिन फिर भी शिक्षा की दर को भी बढ़ाने की जरूरत है। ऐसे कई राज्य हैं जहां महिलाओं को अभी तक उस तरह से शिक्षित नहीं किया गया है जिस तरह से उन्हें होना चाहिए। महिलाओं का सशक्त होना मतलब भारत का विकास की ओर आगे बढ़ना

Transcript Unavailable.

जमीन में अधिकार मिलने से महिलाएं समाज में आगे बढ़ सकते हैं और बच्चों को अच्छी शिक्षा भी दिला सकती हैं।