आज दिनांक 22 2023 को बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ प्रखंड निकाय सिकंदरा के द्वारा एक आवश्यक बैठक रखी गई जिसमें जिला पदाधिकारी जिला शिक्षा पदाधिकारी जिला कार्यक्रम पदाधिकारी जिला अनुमंडल पदाधिकारी को एक ज्ञापन दिया गया जिसमें निम्न मांगो को लेकर जैसे डीपी का बकाया वेतन दक्षता का बकाया 15 परसेंट का बकाया 100 समय वेतन देना इन सारी मांगों को लेकर ज्ञापन दिया गया एवं मुख्यमंत्री का आगमन पर विरोध प्रदर्शन एवं खराब किया जाएगा .

बिहार राज्य के जमुई जिला से मोबाइल वाणी संवाददाता रजनी कुमार ने संजीव कुमार से साक्षात्कार लिया जिसमें उन्होंने जानकारी दी कि कोरोना काल से पहले वो प्राइवेट स्कूल में पढ़ाते थे।लेकिन लॉक डाउन के कारण उन्हें व्यवसाय बदलना पड़ा।ग्राहक सेवा केंद्र शुरू किया है। इस खबर को सुनने के लिए ऑडियो पर क्लिक करें। 

दोस्तों, सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन एकोनॉमी की रिपोर्ट कहती है कि मई के दौरान बेरोजगारी दर 12 फीसदी दर्ज की गई है, जबकि अप्रैल के दौरान यह आंकड़ा 8 फीसदी का था. आंकड़ों को अगर देखें तो इस अवधि में करीब 1 करोड़ लोगों की नौकरियां जा चुकी हैं. जाहिर है कि हालात सुधरने में काफी वक्त लगने वाला है. साथियों, हमें बताएं कि अगर आपको पहले की तरह काम नहीं मिल पा रहा है तो इसकी क्या वजह है? क्या कंपनी और कारखानों के संचालक ज्यादा नियुक्तियां नहीं करना चाहते? क्या वे पहले की अपेक्षा कम वेतन दे रहे हैं और क्या आपको कम वेतन पर काम करने के लिए मजबूर किया जा रहा है? क्या काम मांगने के लिए लिखित आवेदन देने के 15 दिन बाद भी समस्या का समाधान नहीं हुआ? क्या मनरेगा अधिकारी बारिश या कोविड का बहाना करके काम देने या किए गए काम का भुगतान करने में आनाकानी कर रहे हैं? दोस्तों, अपनी बात हम तक पहुंचाएं ताकि हम उसे उन लोगों तक पहुंचा सकें जो आपकी समस्या का समाधान कर सकते हैं. अपनी बात रिकॉर्ड करने के लिए फोन में अभी दबाएं नम्बर 3.

*कहां से लाऊं कपड़े लत्ते,* *कहां से लाऊं रंग गुलाल,* *भूखा हूं, कई सालों से,* *दो महीने से भी न मिली पगार!* *बच्चे तरस रहे मिठाई को,* *पत्नी को साड़ी की है दरकार,* *कैसे बताऊं बूढ़ी मां को,* *बमुश्किल रोटी का हुआ जुगाड!* *हक और सम्मान की खातिर,* *"जब हमने आवाज उठाई,* *भूखे गुरुओं के पेट पर,* *लात मार बैठी ये सरकार!* *कैसा ये सुशासन,कैसा अत्याचार,* *रोटी और सम्मान के बदले,* *भूखों मार रही ये सरकार!* विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।

रंगो का त्योहार होली खुशियों का पर्व है।जहां हर घरों में नये-नये कपड़ों व तरह -तरह के पकवानों से हर घरों में दो दिनों तक चलने वाला होली में बहार होती है।वही प्रखंड के ग्रामीण सुरक्षा प्रहरी जो रात दिन अपने ड्यूटी पर तैनात रहने वाले चौकीदारो को पांच महीनों से वेतन नही मिलने से रंगों की त्योहार होली इनके घरों में बदरंग और फीकी होते दिख रही है। विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।

सिकंदरा प्रखंड में हड़ताल से सभी सरकारी विद्यालयों में लटके रहे ताले !बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष के तत्वाधान में सभी शिक्षक मध्य विधालय के पारिसर में दिन भर धरने पर बैठे। विस्तार पूर्वक खबरों को सुनने के लिए ऑडियो पर क्लिक करें।

प्रखंड के संकुल संसाधन केंद्र महादेव सिमरिया में मंगलवार को बिहार पंचायत प्राम्बिक शिक्षक संघ के बैनर तले एक दिवसीय बैठक का आयोजन किया गया। विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।

डी पी ई संबंधित वेतन निर्धारित करते हुवे अविलंब बकाया वेतन भुगतान करने का आदेश प्राप्त हो चुका है। मगर प्रखंड स्तर के पदाधकारियों द्वारा आज तक वेतन भुगतान हेतु किसी प्रकार का प्रयास नहीं किया गया है। इन सभी शिक्षकों द्वारा अवमानना हेतु शुक्रवार को दुबारा अपील दायर करने की बात कही गई है। विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।

प्रखंड के करीब सैकड़ो शिक्षकों के डी पी ई के लंबित राशि सेवा पुस्तिका संधारण के पेंच में फँस गया है। वहीं इस सम्बन्ध में बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के जिला सचिव संजीत कुमार ने बताया की डी पी ई के लंबित राशि उच्च न्यायालय के आदेश के बावजूद भी सिकंदरा प्रखंड के नियोजित शिक्षकों को अभी तक नहीं मिल पाया है। विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए क्लिक करें ऑडियो पर और सुनें पूरी खबर।

शहर के अम्बेडकर प्रतिमा स्थल पर जिला शिक्षा सेवक संघ ने अपनी माँगो को लेकर किया धरना प्रदर्शन।विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए ऑडियो पर क्लिक कर सुनें पूरी खबर को।