सोनो प्रखंड के पैरामटिहाना पंचायत के मटिहाना गांव से जितेंद्र कुमार ने बताया है कि बूस्टर डोज लेना अति आवश्यक है करोना टीकाकरण से डरने की जरूरत नहीं है फिर बूस्टर डोज टीकाकरण लगवाकर समुदाय को सुरक्षित करना ज्यादा बेहतर है हमारे क्षेत्र के सभी लोगों को कहना चाहता हूं कि अधिक से अधिक लोग जल्द से जल्द बूस्टर डोज अवश्य लें हम लोग 2 साल का करोना का पीड़ा सह चुके हैं इसलिए फिर से दोबारा वह समय नहीं आए

Transcript Unavailable.

दोस्तों, , कोरोना संक्रमण का असर 2 सप्ताह या अधिकतम 1 माह में खत्म हो जाता है. इसके बाद जैसे ही पीडित की रिपोर्ट नेगेटिव आती है, उस समय से 3 माह बाद कोरोना टीके की पहली डोज लगवा सकते हैं .

अगर अभी तक आप कोरोना टीका लेने से घबरा रहे हैं तो देर मत कीजिए.... जल्दी से किसी डाॅक्टर, आशा कार्यकर्ता या फिर स्वास्थ्य कर्मचारी की सलाह लें... ना कि सोशल मीडिया या फिर इधर-उधर से सुनी सुनाई बातों पर विश्वास करें. साथ ही हमें बताएं कि आप कैसे कोरोना टीके से जुडे मिथकों को दूर करने का प्रयास कर रहे हैं? क्या इस काम में आपको प्रशासन की ओर से कोई मदद मिल रही है? और अगर आप कोरोना का टीका लगवा चुके हैं तो अपना अनुभव हमारे साथ साझा करें. अपनी बात रिकाॅर्ड करने के लिए फोन में अभी दबाएं नम्बर 3.

बिहार राज्य के जमुई जिला से मोबाइल वाणी संवाददाता अमित कुमार सविता ने रामवृक्ष महतो से साक्षात्कार लिया जिसमें उन्होंने बताया की कोरोना काल में बहुत ही भयावह परिस्थतियों का सामना किया। कई लोग ऐसे भी हैं, जो बीमार होने पर काफी खर्च कर ईलाज करवाया फिर भी उनकी मौत हो गई। ऐसे ही परिस्थति में जब मैं भी बीमार हुआ, तो मुझे लगा मैं भी नहीं बचूँगा। क्योंकि मेरे पास पैसे नहीं थे। लेकिन मेरे एक दोस्त ने मेरी मदद की जिससे मैं अपना ईलाज करवाया और ठीक हुआ। जब से कोरोना टीका का सभी डोज लिया है, तब से बीमार नहीं हुए है। कोरोना टीका लेने के लिए ग्रामीणों को जागरूक कर रहे हैं। कोरोना काल में भी लोगों को हर तरह जागरूक और मदद करने की पूरी कोशिश की थी

दोस्तों, सरकार के प्रयासों से देश की अधिकांश जनता ने कोविड टीके की दोनों खुराके ले ली हैं पर फिर भी हमारे बीच कोरोना संक्रमण का खतरा कम नहीं हो रहा है. इसकी वजह है कि अभी भी बहुत से लोग ऐसे हैं, जो कोरोना टीके के बारे में भ्रमित हैं... यानि अफवाहों के चलते उन्होंने टीकाकरण नहीं करवाया है. जिसकी वजह से हमारे समाज में अभी भी कोरोना संक्रमण का खतरा बना हुआ है. और ज्यादा जानने के लिए इस ऑडियो को क्लिक करें

दोस्तों, कुछ लोगों को ये गलतफहमी होती है कि कोविड बचाव का टीका लगवा लेने के बाद अब उन्हें संक्रमण नहीं होगा. इसलिए वे भीड़भाड़ वाली जगहों पर चले जाते हैं. जबकि यह बात समझना चाहिए कि टीका संक्रमण के प्रभावों को कम करता है. संक्रमण से बचाव के लिए अभी भी हमें भीड़ वाली जगहों पर जाने से बचना चाहिए. जितना ज्यादा हो सके, सामाजिक दूरी के नियम का पालन करना चाहिए. फिर भी समुदाय में अलग लोगों को बाहर जाना ही है तो वे मास्क पहनकर जाएं. और ज्यादा जानने के लिए इस ऑडियो को क्लिक करें

बिहार राज्य के जमुई जिला से मोबाइल वाणी संवाददाता अमित कुमार सविता ने राहुल कुमार से साक्षात्कार लिया जिसमें उन्होंने बताया की वे कोरोना का तीनों टीका सही समय अंतराल पर लगवा लिया है। कोरोना का टीका बिल्कुल सुरक्षित है।टीका लेने से किसी प्रकार का कोई दिक्कत नहीं हुआ।जब कोरोना काल था तो बहुत दिक्कत का सामना करना पड़ा था

बिहार राज्य के जमुई जिला से मोबाइल वाणी संवाददाता अमित कुमार सविता ने देवेंद्र कुमार से साक्षात्कार लिया जिसमें उन्होंने बताया की वे कोरोना का तीनों टीका सही समय अंतराल पर लगवा लिया है। कोरोना का टीका बिल्कुल सुरक्षित है।टीका लेने से किसी प्रकार का कोई दिक्कत नहीं हुआ

बिहार राज्य के जमुई जिला से मोबाइल वाणी संवाददाता अमित कुमार सविता ने बिपिन कुमार से साक्षात्कार लिया जिसमें उन्होंने बताया की वो और उनके परिवार के सभी सदस्य कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोरोना का दोनों टीका सही समय अंतराल पर लगवा लिया है।बूस्टर डोज अभी नहीं लिया है।