नमस्कार आदाब श्रोताओं, मोबाइल वाणी आपके लिए लेकर आया है रोजगार समाचार। यह नौकरी उन लोगों के लिए है जो बिहार राज्य पुलिस द्वारा निकाली गयी स्टेनो सहायक उप निरीक्षक पद पर 29,200 - 92,300 रूपए वेतनमान पर कार्य करने के लिए इच्छुक है । इन पदों पर कुल एक सौ तैंतीस रिक्तियां निकाली गयी है। इस पद के लिए वैसे उम्मीदवार आवेदन कर सकते है जिन्होंने किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से 12वीं की परीक्षा उत्त्रिण किया हो। इन पदों पर आवेदन करने के लिए आयु सीमा अधिकतम 25 वर्ष रखी गई है । उम्मीदवारों का चयन 12वीं में प्राप्त किये अंक, लिखित परीक्षा, टाइपिंग टेस्ट और कंप्यूटर टेस्ट के आधार पर किया जायेगा। इन पदों पर आवेदन करने के लिए आवेदन शुल्क, सामान्य और ओ.बी.सी वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 700 रुपये तथा एससी और एसटी वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 400 रुपये रखा गया है। शुल्क का भुगतान ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के दौरान किया जाएगा। यदि आप के पास मांगी गयी सारी योग्यताएं है तो आप अपना आवेदन http://www.bpssc.bih.nic.in/ भर सकते है। याद रखिये आवेदन पत्र 30 मार्च 2020 तक ही स्वीकार किये जायेंगे।

दोस्तों, बिहार में कुपोषण के गंभीर हालातों के कारण हमारे बुधिया चाचा और साधना काफी परेशान हैं. वे इस मामले में बात करने के लिए गांव के सरपंच से मिलने पहुंचे हैं तो क्या आप जानना नहीं चाहेंगे कि आखिर सरपंच से उनकी क्या बात हुई!

ईद का चांद दिख चुका है और बुधवार को पूरे भारत में ईद का त्यौहार मनाया जाएगा. ग्रामवाणी परिवार की तरफ से आप सभी को ईद मुबारक...

Transcript Unavailable.

इंटरमीडिएट परीक्षा फल प्रकाशित होने पर अभिवावक साक्षत्कार

सिकंदरा प्रखंड में मेधावी छात्रा ने अपने करियर के लिए मोबाइल वाणी से साझा किया

सफल हुए इंटरमीडिएट छात्र का साक्षात्कार ! बताते चले की विष्णु कुमार अतयंत गरीब मेधावी छात्र ने 2019 में इंटरमीडिएट की परीक्षा में 82% लाकर सफलता हासिल की है

बिजली विभाग के लापरवाही का आलम विधालय परिसर में झूल रहे है 11हजार विजली का तार   ---------------------------------------------------------- सिकंदरा (निस )प्रखंड के पोहे पंचायत के उत्क्रमित मध्य विधालय लहिला में बिजली विभाग के लापरवाही का आलम यह है की विधालय परिसर में बिजली के खभे में 11 हजार के बिजली के तार लटक के झूल रहे है ! विधालय के चारदीवारी पर अगर बच्चे चढ़ते है तो कभी भी कोई अप्रिय घटना से इंकार नहीं किया जा सकता है ! इस सम्बन्ध विधालय के प्रधानाध्यापक विवेकानंद सिंह ने बताया की मै कई बार बिजली विभाग को सुचना दी है लेकिन आज तक ना तो तार को हटाया गया और ना तो तार को ऊपर किया गया ! विधालय में पढ़ने वाले बच्चे विधालय परिसर में निकलने के बाद सहमे रहते है ! पेड़ में तार टकराने पर चिंगारी फेकता है ! अगर इसे अबिलब  ठीक नहीं किया गया तो कोई भी घटना घाट सकती है !

सिकंदरा प्रखंड के सभी 12 संकुलो में दो दिवसीय आवर्ती प्रशिक्षण का आयोजन किया गया !इस बैठक की अध्यक्ष्ता संकुल समन्वयक ने की !वही बैठक में संकुलाधीन विधालय के सभी शिक्षक गैन उपस्थित थे ....

चंपारण, यहां के प्राकृतिक नजारे जितने खूबसूरत हैं उससे कहीं ज्यादा समृद्ध है यहां का इतिहास. चंपारण वह धरती है जहां भारत महात्मा गांधी ने 1917 में किसानों को शोषण से मुक्त करवाने के लिए सत्याग्रह शुरू किया था और यह जगह ऐतिहासिक हो गई. लेकिन दशकों बाद एक बार फिर चंपारण नए सत्याग्रह के लिए तैयार है. क्या आप नहीं जानना चाहेंगे कि यह कौन सा सत्याग्रह है...? सुनिए और हिस्सा बनिए नेटिव पिक्चर संस्था और ग्रामवाणी की संयुक्त मुहिम का