Upayukt Abu imran online madhyam se Janata Darbar mein aam logon ki samasyaon se hue rubaru.

उपायुक्त ने जनता दरबार के माध्यम से आमजन की समस्याओं से रूबरू हुए जिला के सुदरवर्ती क्षेत्र से पहुंचें फरियादियों से मिलकर उनकी समस्याओं से अवगत हुए

कोडरमा उपयुक्त मेघा भारद्वाज आम जनों की सुनी समस्या दिया कोई निर्देश

पाकर टांड क्यूंदडीह के बाजार में पूर्व मंत्री एनोस एक्का ने ग्रामीणों की सुनी समस्या

Transcript Unavailable.

Transcript Unavailable.

झारखण्ड राज्य के गिरिडीह जिला के संवादाता रविंद्र कुमार ने गिरिडीह मोबाइल वाणी के माध्यम से बताया कि कुछ महीने पहले मोबाइल वाणी पर एक खबर प्रसारित की गयी थी। जिसमें मनरेगा द्वारा अच्छी कार्य योजना संपन्न किये जाने की सुचना दी गयी थी। इस संदर्भ में ग्राम बेंगाई पोस्ट अड़वारा ,थाना बगोदर जिला गिरिडीह के स्थानीय निवासी प्रकाश टुडो ने बताया कि मोबाइल वाणी द्वारा वार्ड सभा का आयोजन किया गया था। जिसमें उन्होंने भाग लिया था। इस सभा में डोभा निर्माण पर चर्चा की गयी थी। इसके लिए उन्हें ब्लॉक में आवेदन देने के लिए पांच -से दस दिन का समय लगा और डोभा निर्माण में दो से ढ़ाई महीने लगा। डोभा का निर्माण होने से दस से बारह किसानों को सिंचाई और फसल की खेती करने में लाभ मिलेगा। इस कार्य हेतु वे मोबाइल वाणी एवं संवादाता बहादुर हेमरोंग को धन्यवाद व्यक्त कर रहे हैं।

जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा चालू वर्ष 2022 के अंतिम लोक अदालत का आयोजन शनिवार को व्यवहार न्यायालय परिसर में किया गया। इस मासिक लोक अदालत में कुल- 46 मामलों का निष्पादन किया गया। जिसमे सुलहनीय आपराधिक वाद के 37 मामले, बिजली वाद के 3 मामले, चेक बाउंस के 06 मामले शामिल हैं।

साथियों , गॉँवों में शिक्षा की कमी एवं गरीबी के कारण आये दिन कोई-न-कोई विवाद हुआ करते हैं एवं ग्राम वासी जटिल कानूनी प्रक्रिया के चक्कर मं फॅँस जाते हैं एवं बाद में चाहते हुए भी आपस में समझौता न कर पाते है। इसलिए इन मुद्दों को ध्यान में रखकर सर्वप्रथम यह प्रावधान किया गया कि किसी भी मुद्दे या विवाद को सामने आने पर ग्राम कचहरी का दायित्व होगा कि पक्षकारें के बीच सौहार्दपूर्ण वातावरण तैयार कर समझौता कराए ताकि ग्राम वासियों की मेहनत की कमाई का पैसा उनके विकास पर खर्च हो न कि कानून की जटिल प्रक्रियाओं पर। तो आप हमें बताएं कि — आप ग्राम कचहरी के बारे में क्या जानते हैं? — क्या आपके गांव में कचहरी लगती है और आपने उसमें कभी हिस्सा लिया है? — क्या आपने वहां प्रकरणों का निपटारा होते देखा है? अगर हां तो अपना अनुवभ हमारे साथ साझा करें. — अगर आपने ग्राम कचहरी में कोई सवाल पूछा हो और उसका जवाब मिला हो तो उसके बारे में बताएं? — आपके हिसाब से ग्राम कचहरी की जरूरत है या नहीं? क्या इनके होने से ग्रामीणों को फायदा मिलता है? . इन सवालों के जबाब देने के लिए अभी दबाएं अपने फ़ोन में नंबर 3 का बटन।

Transcript Unavailable.